जम्मू-कश्मीर स्थित पुलवामा के लैथापोरा में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) कैंप पर हमले का साजिशकर्ता अब भारत की गिरफ्त में है. एक सरकारी अधिकारी ने बताया कि साल 2017 में CRPF कैंप पर हुये हमले का साजिशकर्ता जैश-ए-मोहम्मद आतंकी निसार अहमद तांत्रे को संयुक्त अरब अमीरात (UAE) ने भारत डिपोर्ट कर दिया है.

निसार अहमद को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली स्थित हवाईअड्डे पर गिरफ्तार किया गया. वह 1 फरवरी को UAE चला गया था. UAE ने उसे डिपोर्ट कर दिया जिसके बाद मंगलवार रात को इसकी गिरफ्तारी हुई.

निसार अहमद वर्क वीजा के आधार पर भागने की फिराक में था. सूत्रों के अनुसार तांत्रे का भाई, नूर मोहम्मद तांत्रे भी जैश-ए-मोहम्मद का कमांडर था, जिसे बीते साल सैन्य कार्रवाई में मार गिराया था.

लैथापोरा स्थित CRPF कैंप पर 30-31 दिसंबर 2017 की रात हमला हुआ था. इस हमले में CRPF के 5 जवान शहीद हो गए थे. जैश-ए-मोहम्मद ने हमले की जिम्मेदारी ली थी. आतंकी संगठन का कहना था कि यह फिदायीन हमला उसके आतंकी कमांडर नूर त्राली की मौत का बदला लेने के लिए किया गया है.

26 दिसंबर को सैन्य कार्रवाई में 3 फीट के आतंकी और जैश कमांडर नूर त्राली को मुठभेड़ में मार गिराया था. जम्मू-कश्मीर में बुरहान बानी के बाद वह आतंक का दूसरा नाम बना हुआ था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here