भोपाल: भारत सरकार के पंजाब के गुरदासपुर जिले से करतार साहिब तक कॉरिडोर को मंजूरी देने के बाद लोगों में खुशी की लहर है तो वहीं पंजाब सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू इसका श्रेय खुद को दे रहे हैं। नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा, ‘वह गले मिलना तो रंग ले आया, वह तो 15-16 करोड़ लोगों के लिए अमृत सिद्ध हुई। कम से कम वह राफेल डील तो नहीं था।’

दरअसल सिद्धू मध्य प्रदेश में चुनावी दौरे पर थे इसी दौरान उन्होंने मीडिया के एक सवाल के जवाब में यह बयान दिया। बता दें कि सिद्धू के पाकिस्तान आर्मी चीफ कमर बाजवा से गले मिलने पर बीजेपी ने जमकर आलोचना की थी। सिद्धू इसी मसले पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे थे। इसी साल पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथग्रहण समारोह में सिद्धू ने पड़ोसी देश जाकर सबको हैरान कर दिया था। इसी दौरान वह जनरल बाजवा से गले मिले थे, जिस पर बीजेपी ने उन पर

बीजेपी ने किया था कटाक्ष
उस दौरान सिद्धू ने कहा कि जनरल बाजवा ने उनसे पाकिस्तान की ओर से करतारपुर कॉरिडोर खोलने की संभावना जताई है। वहीं बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने सिद्धू पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वह हैरान है कि सिद्धू पाकिस्तान की कैबिनेट में होने के बजाय मध्य प्रदेश में थे। भारत सरकार को अपने फैसले के लिए धन्यवाद कहने के बजाय वह पाकिस्तान आर्मी के चीफ को थैंक्स कह रहे हैं।

हालांकि नवजोत सिंह सिद्धू ने फैसला आने के बाद गुरुवार को ट्वीट कर सरकार का शुक्रिया अदा किया था। उन्होंने लिखा, ‘मैं तहे दिल से भारत सरकार को धन्यवाद करता हूं। मैं पाकिस्तान के सम्मानीय प्रधानमंत्री इमरान खान साहब से करतारपुर कॉरिडोर खोलने के लिए मिलकर कदम उठाने की गुजारिश करता हूं।’ बता दें कि सिख समुदाय के लिए करतार साहब काफी मायने रखता है। यह सिखों का पवित्र तीर्थ स्थल है जहां गुरुनानक देव ने अपने जीवन के 18 साल बिताए थे।

कैबिनेट के फैसले में क्या-क्या
कैबिनेट ने फैसला किया है कि डेरा बाबा नानक जो गुरुदासपुर में है, वहां से लेकर इंटरनैशनल बॉर्डर तक एक करतारपुर करॉरिडोर बनाया जाएगा। यह वैसा ही होगा, जैसे कोई बहुत बड़ा धार्मिक स्थल होता है। यहां पर वीजा और कस्टम की सुविधा मिलेगी।

इसको व्यापक तरीके से करतार साहिब कॉरिडोर को बनाया जाएगा, यह 3 किलोमीटर का होगा। इसको भारत सरकार पूरी तरह से फंड करेगा। सुल्तानपुर लोदी जो गुरुनानक देवजी के जन्म के साथ संबंधित है, वहां हेरिटेज टाउन के रूप में विकसित किया जाएगा। उसको स्मार्ट सिटी की तरह विकसित होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here