लोकसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा के बाद से लगातार दूसरे दिन शेयर बाजार में तेजी दर्ज की गई. 2 दिन में सेंसेक्स 850 अंकों से ज्यादा मजबूत हुआ है. सोमवार को सेंसेक्स 382 अंक बढ़ा था, वहीं मंगलवार को इसमें 482 अंकों की तेजी रही. दूसरी ओर निफ्टी भी 11300 के स्तर के करीब 6 महीने के सबसे ऊंंचे स्‍तर पर पहुंच गया है. बाजार में तेजी की वजह से दो दिन में निवेशकों ने 3.52 लाख करोड़ रुपये की कमाई की.

मंगलवार को कारोबार के अंत में बीएसई का 30 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 481.56 अंक यानि 1.30 फीसदी की बढ़त के साथ 37535.66 के स्तर पर बंद हुआ है. वहीं एनएसई का 50 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 133.15 अंक यानि 1.2 फीसदी की बढ़त के साथ 11301.20 के स्तर पर बंद हुआ है.

FII का निवेश बढ़ा- साल 2019 में फॉरेन पोर्टफोलियो इन्वेस्टर्स (FIIs) ने घरेलू शेयर बाजार में अबतक 19,705 करोड़ रुपये निवेश किए हैं. सोमवार को निवेशकों ने 3,810.60 करोड़ रुपये की खरीददारी की. एनालिस्ट का मानना है कि स्थिर सरकार की उम्मीद में निवेश बेहतर हो रहा है.

स्थिर सरकार की उम्मीद बढ़ी- एनालिस्ट का मानना है कि बालाकोट अटैक के बाद देश में मौजूदा सरकार को लेकर सेंटीमेंट बदले हैं. कुछ प्रीपोल सर्वे भी सरकार के पक्ष में जाते दिख रहे हें. इसलिए देश में स्थिर सरकार का सेंटीमेंट बना है, जिससे मार्केट में अच्छी रैली बनी है.

मिडकैप, स्मालकैप में रैली- एयर स्ट्राइक के बाद सेंटीमेंट बदला है. स्थिर सरकार को लेकर बाजार की उम्मीदें पहले से बेहतर हुई हैं. जिससे घरेलू स्तर पर मिडकैप और स्मालकैप में बेहतर रैली देखने को मिल रही है. वहीं जियो पॉलिटिकल टेंशन घटने, ट्रेड वार में कमी आने और क्रूड में स्टेबिलिटी भी रैली के पीछे की वजह रहे हैं.

बैंकिंग सेक्टर में रिकवरी- डेट रिकवरी तेज होने से बैंकिंग सेक्टर को फायदा मिल रहा है. बाजार में एक अच्छी रैली आई है, जिसकी मुख्य वजह बैंकिंग सेक्टर में आने वाली तेजी रही है. वहीं, सरकार द्वारा NBFC सेक्टर में लिक्विडिटी की कमी नहीं होने देने के ऐलान से इस सेक्टर को भी फायदा मिल रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here