नई दिल्ली : मनी लांड्रिंग मामले में रॉबर्ट वाड्रा को पटियाला हाउस की एक विशेष अदालत में अग्रिम जमानत दे दी है। कोर्ट ने वाड्रा की याचिका पर सुनवाई करते हुए उन्हें 16 फरवरी तक की अग्रिम जमानत दी है। इस दौरान वाड्रा के वकील ने कोर्ट में कहा है कि वाड्रा 6 फरवरी को ईडी की जांच के लिए उपलब्ध होंगे।

वाड्रा ने मनी लांड्रिग के एक मामले में याचिका दायर की थी, जिसमें गत 11 जनवरी को वाड्रा के करीबी सहयोगी मनोज अरोड़ा को अदालत ने गिरफ्तारी से अंतरिम राहत दी थी।

ईडी ने अदालत को बताया था कि आयकर विभाग की एक अन्य जांच में मनोज अरोड़ा का नाम सामने आने के बाद उनके खिलाफ मनी लांड्रिग का मामला दर्ज किया गया। यह भी बताया था कि लंदन में रॉबर्ट वाड्रा द्वारा खरीदी गई संपत्ति में मनोज अरोड़ा की अहम भूमिका है और उन्होंने इस संपत्ति को खरीदने में वाड्रा की मदद की है।

दूसरी तरफ अग्रिम जमानत याचिका में मनोज अरोड़ा ने आरोप लगाया था कि विदेश में संपत्तियों की खरीद से जुड़े मनी लांड्रिग मामले में ईडी उन पर उनके नियोक्ता रॉबर्ट वाड्रा को गलत तरीके से फंसाने का दबाव बना रही है।

वाड्रा की स्काईलाइट हॉस्पिटैलिटी कंपनी में काम करने वाले अरोड़ा ने यह भी आरोप लगाया था कि पूछताछ के लिए उनकी पत्नी जांच एजेंसी के सामने पेश हुई थीं और ईडी अधिकारियों ने वाड्रा को फंसाने के लिए उन्हें धमकाया था। कहा था कि ऐसा नहीं किया तो उनके पति और परिवार का भविष्य खराब कर देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here