कन्नूर (केरल) : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बुधवार को निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने देश को “विभाजित” कर देश के लोगों को आपस में ही लड़ाने का काम किया है।

गांधी संसदीय समन्वय समिति की बैठक के बाद यहां संवाददाताओं से बात कर रहे थे। उन्होंने बढ़ती बेरोजगारी, किसानों की आत्महत्या और राफेल सौदे के तहत अनिल अंबानी को 30,000 करोड़ रुपये कथित तौर पर देने के लिए मोदी को जिम्मेदार ठहराया।

गांधी ने कहा, “नरेंद्र मोदी ने देश को बांटा और देश के भीतर ही लोगों को आपस में लड़वाया है। आज की तारीख में देश में सबसे ज्यादा राष्ट्र विरोधी बात जो हुई है … वह यह है कि ऐसी स्थिति पैदा हो गई है … जिसमें हर 24 घंटे में 27,000 युवा अपनी नौकरी गंवा रहे हैं।’’

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा ‘‘राष्ट्र विरोधी आचरण हमारी कृषि व्यवस्था को अशक्त कर रहा है … हजारों किसानों को आत्महत्या करने पर मजबूर करना राष्ट्र विरोधी आचरण है।” उन्होंने कहा, ‘‘30,000 करोड़ रुपये लेकर अनिल अंबानी को दे देना राष्ट्र विरोधी आचरण है। नरेंद्र मोदी को जवाब देना होगा कि उन्होंने यह सब क्यों होने दिया।’’

कांग्रेस अध्यक्ष ने इस ओर भी ध्यान दिलाया कि देश में जिन तीन बड़े मुद्दों पर चर्चा होनी चाहिए वे हैं आर्थिक पिछड़ापन, कृषि संकट और भ्रष्टाचार । लेकिन मोदी तो प्रेस से भी चर्चा करने के लिए तैयार नहीं हैं।

गांधी दो दिन के दौरे पर राज्य आए हैं और मंगलवार को उन्होंने मध्य केरल में कई रैलियों को संबोधित किया। उत्तर प्रदेश में अपने गढ़ अमेठी के अलावा केरल की वायनाड संसदीय सीट से भी चुनाव लड़ रहे गांधी इस लोकसभा क्षेत्र में चार जनसभाओं को संबोधित करेंगे।

केरल में 23 अप्रैल को तीसरे चरण के चुनाव में वोट डाले जाएंगे। राज्य में 20 लोकसभा सीटें हैं जिनमें से ज्यादातर पर माकपा नीत एलडीएफ और कांग्रेस की अगुवाई वाले यूडीएफ के बीच सीधी टक्कर है। हालांकि भाजपा नीत राजग तिरुवनंतपुरम, पतनमथिट्टा और त्रिशूर सीट पर कड़ी चुनौती देने के लिए तैयार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here