स्पेशल डेस्क : जो लोग समय के साथ चलते हैं, असल जिंदगी में वह ही अपडेटेड कहलाते हैं। 2019 का आगाज होने में थोड़ा समय ही बचा है। बीत चुके साल के बाद नए वर्ष की शुरूआत होती है और आप उसी के हिसाब से अपना भविष्‍य भी संवारने की कोशिश करने लगते हैं। जिसका शुभ आरंभ होता है नए साल का पुराना कैलेंडर उतार कर नया कैलेंडर लगाने से। तो आईए जानें नए साल पर कैसा कैलेंडर घर पर लाएं और किस दिशा में लगाएं

घर हो या व्यावसायिक स्थान कैलेंडर को उत्तर, पश्चिम या पूर्वी दीवार पर लगाने से गुड लक आता है। सुंदर चित्रों वाला कैलेंडर लगाएं जिसे देख कर मन प्रफुल्लित और शांत हो बजाय की हिंसक जानवर, दुःखी चेहरे आदि। ऐसी तस्वीरें न तो देखने में अच्छी लगती हैं, दूसरा घर में नकारात्मकता बढ़ाती हैं।

पुराने कैलेंडर दीवार पर ना लगाए

कुछ लोग नया कैलेंडर तो लगाते हैं मगर पुराने कैलेंडर के ऊपर क्योंकि पुराने कैलेंडर से उन्हें भावनात्मक लगाव हो जाता है। जिस वजह से वह उसे उतारते नहीं हैं। फेंगशुई और वास्तु की मानें तो पुराने कैलेंडर को दीवार पर लगाना अशुभता का संचार करता है। कैलेंडर नए साल में आने वाले वक्त की सूचना देता है।

Related image

समय सूचक वस्तुओं को दक्षिण में नहीं रखना चाहिए क्योंकि यह ठहराव की दिशा है। पारिवारिक सदस्यों के जीवन में आने वाले गुड लक को बैड लक में बदल देता है। घर के मुखिया के व्यक्तित्व और स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

इस रंग कैलेंडर लगाना होगा शुभ

लगाने से पारिवारिक सदस्य उन्नति की राह की और अग्रसर होते हैं। यदि कैलेंडर रेड और पिंक हो तो सोने पर सुहागे का काम देता है। उत्तर दिशा पर कुबेर का स्वामित्व स्थापित है। अत: इस दिशा से धन का आगमन होता है। घर में धन के प्रवाह के लिए इस दिशा में कैलेंडर अवश्य लगाएं। हरे व सफेद रंग का कैलेंडर इस दिशा के लिए लकी है।

इस दिशा में लगाने से बनेंगे काम

पश्चिम दिशा में कैलेंडर लगाने से किसी भी तरह के रुके हुए काम जल्दी और शीघ्र हो जाते हैं। उनमें किसी भी प्रकार का अवरोध हो जल्दी ही समाप्त हो जाता है।
पश्चिम दिशा प्रवाह और उत्थान की दिशा है। इस दिशा में कैलेंडर लगाने से किए गए काम फलते-फूलते हैं और योग्यता भी बढ़ती है।

मुख्य दरवाजे के सामने ना लगाएं कैलेंडर

घर के मुख्य दरवाजे पर या दरवाजे के बिल्कुल सामने कैलेंडर मत लगाएं क्योंकि ये घर में प्रवेश करने वाली ऊर्जा पर अपना प्रभाव डालता है। हवा का झौंका आने से कैलेंडर उड़ना नहीं चाहिए। उसे अच्छे से चिपका कर लगाएं। हिलता-डुलता कैलण्डर नकारात्मकता फैलाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here