स्पेशल डेस्क : वास्तु शास्त्र के अनुसार हमारे घर की कई चीजें नकारात्मक व सकारात्मक प्रभाव डालती है। अगर घर की दीवारों का कलर भी वास्तु के अनुसार चुना जाए तो सुख समृद्धि बनी रहती है।

ऐसे में ड्राइंग रुम से लेकर बेडरुम की दीवारों का कलर वास्तु के हिसाब से करवाएं, ताकि घर में पॉजिटिव एनर्जी बनी रहें। आज हम आपको बताएंगे कि वास्तु के हिसाब से आपके घर की दीवारों के लिए कौन-सा कलर बेस्ट होगा।

Image result for लाल रंग home

लाल रंग से बढ़ता है डिप्रेशन

लाल रंग बोल्ड, साहसी, आक्रामकता, गर्माहट और एनर्जी को दर्शाता है जिसे आप लिविंग रूम में करवा सकते है लेकिन ध्यान रखें जिन लोगों को अक्सर तनाव या डिप्रेशन रहता है, उन्हें यह कलर घर में नहीं करवाना चाहिए।

अस्पतालों में इसलिए होता है हरा रंग

अक्सर अस्पताल की दीवारों पर हरा रंग किया हुआ देखा जाता है क्योंकि इससे मुड फ्रेश और दिमाग शांत रहता है। वहीं वास्तु के अनुसार जिन कपल्स के बीच मन-मुटाव अदिक होता है, उन्हें अपने बेडरुम में हरा रंग करवाना चाहिए।

Image result for सफेद रंग home inside

सफेद रंग बढ़ाता है अहंकार

सफेद रंग साफ-सफाई, शुद्धता, खुलापन, मासूमियत, सादगी का प्रतीक है। वास्तु के हिसाब से पूरे घर पर व्हाइट कलर न करवाए क्योंकि इससे अहंकार बढ़ता है।

डिप्रेशन दूर करता है ये कलर

ऑरेंज कलर दृढ़ता, कम्युनिकेशन, अच्छा स्वास्थ्य, ऊर्जा, चुस्ती दर्शाता है जो लोग अपने लक्ष्य को हासिल करना चाहते हैं उनको कमरे में यह रंग जरूर करवाएं।

खुशियां लाये ब्राउन कलर

ब्राउन कलर पुरुषों से संबंधित माना जाता है लेकिन आप इस कलर को भी अपने घर की दीवारों पर करवा सकते है। इससे जीवन में खुशी और संतुष्टि आती है।

शाही अंदाज दिखाता है पर्पल कलर

बैंगनी यानी पर्पल कलर शिष्टता का प्रतीक हैं। वास्तु के इनुसार, बेडरुम की दीवारों पर पर्पल कलर का आर्ट करवाने से राजसी भाव और धन की भावना उत्पन्न होती है।

वास्तु में शुभ माने जाते हैं न्यूट्रल कलर

वास्तु शास्त्र के अनुसार न्यूट्रल कलर घर में करवाना काफी शुभ माना जाता है। घर की दीवारों के लिए यह कलर काफी बेस्ट हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here