Our Team

आदित्य द्विवेदी (AD)

नाम है आदित्य… सूरज के पर्यायवाची हैं सो तेज भी बहुत हैं। गरमा भी बड़ी जल्दी जाते हैं। यहां पर सबसे बड़े वाले हैं। ख़बरों के कीड़े हैं और कीड़े भी अइसे वाले जो घुस जायें तो अल्ट्रासाउंड में भी न दिखें। फेसबुक पर खुद की श्रंगार रस की चाशनी में लिपटी लाइनें भी चेंप देते हैं। लेकिन खबर हौंकने वाली ही लिखते हैं। शाम के अखबार से लेकर सुबह के पेपर तक में अपनी कलम तोड़ चुके हैं। लोकल चैनल से लेकर नेशनल चैनल तक में इनका थोबड़ा देखा जा चुका है। अब यहां पर सबको खबरदार करने आये हैं।

अद्वितीय (AV)

नाम की तरह ये भी अद्वितीय हैं। भगवान ने इन्हें बनाने के लिए एक ही सांचा बनाया था फिर तोड़ दिया। पत्रकारिता पढ़ती भी हैं और करती भी। खूबसूरत और मासूम सी दिखने वाली ये मैडम ख़बरें भी बड़े मासूमियत से पेश करतीं हैं। मिस टीन इंडिया रह चुकीं हैं। कई एड फिल्म्स में भी शक्ल दिखा चुकीं हैं। डांस करती हैं तो लगता है स्टेज ही तोड़ डालेंगी। और हाँ इनकी मासूमियत को हल्के में न लेना मैडम कराटे में ब्लैक बेल्ट भी हैं। ठोंक देती हैं।

अंकुर द्विवेदी

केवल नाम ही अंकुर हैं… अंकुरित हुए 3 दशक हो गए। अब पूरा बरगद का पेड़ हैं। जड़ें कहां तक हैं ढूंढना भी मुश्किल। डिजिटल मीडिया में अच्छी पकड़ है। प्रिंट में भी काम चलाना आता है। रिपोर्टिंग से लेकर संपादन तक हर क्रिया में घुसे रहते हैं। जीमेल की आईडी से कम्पनी की वेबसाइट तक बना लेते हैं। भाईसाहब ख़बरों की पैकेजिंग में ज्यादा विश्वास रखते हैं। मास्टर भले किसी में न हों पर जैक हर काम में हैं। और हाँ खबर लिखने-पढ़ने के साथ मंत्र भी फूंक लेते हैं। पार्टटाइम पंडिताई के साथ-साथ रहे बचे समय में कानून भी कर आये। कुछ तो कनफुजिया जाते हैं की भैया आखिर पत्रकार हैं.. की वकील हैं.. की ज्योतिषी… बड़ी बात तो ये है पत्रकारिता में आकर खुद का भविष्य भले भट्टी में झोंक दिया हो पर दूसरों का भविष्य पढ़ने में बहुत मजा आता है।