बाली : इंसान तो इंसान अब जानवरों से भी हैवानियत हो रही है। एक वनमानुष से वैश्यवृत्ति कराने की बात आपने कभी सुनी है। यह हैरान कर देने वाला मामला इंडोनेशिया के एक गांव का है। यहां एक वनमानुष सुर्खियों में है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पोनी नाम की मादा वनमानुष को फरवरी 2003 में बॉर्नियो जंगल से तब चुरा लिया गया था, जब वह बहुत छोटी थी।

उसे एक वेश्यालय में रखा गया था,जहां ताड़ की खेती करने वाले किसान दो पौंड देकर उसके साथ संबंध बनाते थे। यह सिलसिला कई सालों तक चला। उसे चेन से बांधकर रखा जाता था।

खूबसूरत दिखने के लिए करते थे ऐसा

वनमानुष को वेश्यालय से बचाने वाले राहतकर्मियों का कहना है कि उसके शरीर पर आने वाले बालों को हटा दिया गया है। उसे ग्राहक के सामने किसी महिला की तरह पेश किया जाता था। उसे खूबसूरत दिखाने के लिए गहने पहनाए जाते हैं और परफ्युम डाला जाता था। इस मादा वनमानुष को इस काम के लिए ट्रेन किया गया ताकि वह ग्राहकों को खुश कर सके।

मर्दों को देखकर सहम जाती है

उसे एक चेन से बांधकर रखा जाता था। जब भी दरवाजे पर कोई दिखता वह समझ जाती थी कि ग्राहक को लाया गया है और अब उसके साथ जबरदस्ती की जाएगी। लगातार हैवानियत होने के कारण वह मर्दों को देखकर सहम जाती है। कोई मर्द जब उसके पास जाता है, तो वह दूर भागने की कोशिश करती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here