शादी के बाद ससुराल में फेस्टिवल्स को लेकर नई दुल्हनें काफी नर्वस रहती हैं। होली जैसे बड़े फेस्टिवल पर उनकी चिंता और भी बढ़ जाती है, क्योंकि यह ऐसा मौका होता है जब ससुराल वालों के साथ ही परिवारों से जुड़े दोस्तों और अन्य रिश्तेदारों से बॉन्ड स्ट्रॉन्ग करने का मौका मिलता है। हम बता रहे हैं कुछ टिप्स जो ससुराल में रंगों के इस त्यौहार को सेलिब्रेट करने के पलों को यादगार बना देंगे।

सास-ससुर से जरूर लें राय

हर परिवार के त्यौहार को लेकर कस्टम्स अलग-अलग होते हैं। ऐसे में आप पहले ही सास-ससुर से होली पर पूजा व रंगों के इस्तेमाल से जुड़ी हर चीज पूछ लें, ताकि कोई भी ऐसा मौका न आ जाए जहां आपको ससुराल वाले टोकें। ऐसा होने पर आपका मूड खराब हो जाएगा और होली पर आप इंजॉय नहीं कर पाएंगी।

पति के साथ करें प्लान

अपनी पहली होली को स्पेशल बनाने के लिए आप पति के साथ मिलकर प्लान बना सकती हैं कि आप इस दिन क्या-क्या करेंगे। चाहे तो सास-ससुर को भी इसमें शामिल करें या उन्हें अपने प्लान से सरप्राइज करें।

शादी के दौरान रिश्तेदारों से मिलने और किसी फेस्टिवल पर उनसे मुलाकात में काफी अंतर होता है। होली पर पार्टी प्लान करें और इसमें रिश्तेदारों और दोस्तों को न्योता दें। इस तरह आपको अपने रिश्तेदारों और ससुराल से जुड़े अन्य लोगों को अच्छे से जानने का मौका मिलेगा।

शरारत से रहें दूर

अपने मायके में आपने भले ही होली पर कितने ही प्रैंक क्यों न किए हों लेकिन ससुराल में ऐसा करने से बचें। शादी के कुछ समय तक आपको पता नहीं होता है कि किसका नेचर कैसा है, ऐसे में अगर आपकी शरारत से किसी को बुरा लग गया तो यह त्यौहार खुशी के जगह टेंशन की वजह बन जाएगा।

बनाएं फेवरिट पकवान

खाने से सभी का दिल जीता जा सकता है। होली पर पति के साथ ही सास-ससुर के पसंद के पकवान बनाएं। आपकी इस कोशिश को देख वह यकीनन बेहद खुश होंगे। हालांकि, इस दौरान अपने फेवरिट डिशेज बनाना न भूलें, क्योंकि यह फेस्टिवल सिर्फ दूसरों के लिए नहीं बल्कि आपके लिए भी खुश होने का मौका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here