लखनऊ : दुनिया के सबसे बड़े आध्यात्मिक और सांस्कृतिक समागम कुम्भ मेले (Kumbh Mela 2019) के दौरान गंगा, श्यामल यमुना और अदृश्य सरस्वती के संगम तट पर जहां श्रद्धालु आस्था की डुबिकयां लगाकर अपने को धन्य महसूस करेंगे वही आपके पास भी दुनिया के इस सबसे बड़े मेले में भागीदारी करने का मौका है. आप सोच रहे होंगे…कैसे ? वो हम आगे बताएंगे पहले जान लेते है कुंभ मेले के बारे में.

हिन्दू धर्म में कुंभ मेला और उस दौरान होने वाले शाही स्नान का खास महत्व है. ऐसा कहा जाता है कि शाही स्नान करने वाले व्यक्ति के सभी पापों का नाश हो जाता है और बैकुंठ प्राप्त होता है. इस बार तीर्थ राज प्रयाग में 15 जनवरी से 4 मार्च तक कुंभ मेला का आयोजन होगा.

कुंभ मेला हर 12 साल में आता है और दो बड़े कुंभ मेलों के बीच आने वाले कुंभ को अर्धकुंभ कहा जाता है. इस बार साल 2019 में आने वाला कुंभ दरअसल, अर्धकुंभ ही है. लेकिन जिस प्रकार से इस अर्धकुंभ मेले की तैयारियां चल रही हैं, उसे देखकर यह कहा जा सकता है कि यह पूर्ण कुंभ मेला है.

दरअसल कुम्भ मेले में आप वॉलेन्टियर्स के रूप में जुड़ कर अपना योगदान दे सकते है यूपी पुलिस ने इसकी जानकारी दी है. कुम्भ मेले के सफलतापूर्वक आयोजन के लिए वॉलेन्टियर्स की जरुरत है.

वॉलेन्टियर बनने के लिए आपको हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं का उचित ज्ञान आवश्यक है. पत्रकारिता के क्षेत्र के लोगो को प्राथमिकता दी जाएगी.

इच्छुक उम्मीदवार अपना रिज्यूमे इस ईमेल आईडी पर भेज सकते है.
kumbhmelapolup@gmail.com

जानें 2019 कुंभ मेले की शाही स्नान की तारीख-

14-15 जनवरी 2019: मकर संक्रांति (पहला शाही स्नान)
21 जनवरी 2019: पौष पूर्णिमा
31 जनवरी 2019: पौष एकादशी स्नान
04 फरवरी 2019: मौनी अमावस्या (मुख्य शाही स्नान, दूसरा शाही स्नान)
10 फरवरी 2019: बसंत पंचमी (तीसरा शाही स्नान)
16 फरवरी 2019: माघी एकादशी
1 9 फरवरी 2019: माघी पूर्णिमा
04 मार्च 2019: महा शिवरात्री

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here