बेंगलुरु : भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन(इसरो) ने कहा है कि वह एक महीने का युवा विज्ञानी कार्यक्रम लॉन्च कर रही है. इस बात की जानकारी इसरो प्रमुख के सिवन ने दी है. उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम के तहत प्रत्येक राज्य से तीन विद्यार्थी चुने जाएंगे और उन्हें शिक्षित किया जाएगा.

इसरो प्रमुख ने आगे बताया कि प्रत्येक राज्य से चुने जाने वाले विद्यार्थियों को शिक्षित करके शोध तथा विकास प्रक्रिया से जुड़ी प्रयोगशालाओं तक उनकी पहुंच बनाई जाएगी. यह सब इसलिए किया जाएगा ताकि वे उपग्रह बनाने का वास्तविक अनुभव हासिल कर सके.

के सिवन ने बताया कि इसरो ने त्रिपुरा में इनक्यूबेशन सेंटर विकसित किया है. उन्होंने आगे बताया कि त्रिची, नागपुर, राउरकेला तथा इंदौर में चार अतिरिक्त सेंटर का निर्माण किया जाएगा.

बता दें की मोदी सरकार ने हाल ही में 10 हजार करोड़ की महत्वकांक्षी गगनयान परियोजनाी को मंजूरी दे दी थी. यह मिशन अगर कामयाब हो जाता है तो अंतरिक्ष पर मानव मिशन भेजने वाला भारत विश्व का चौथा देश बन जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here