ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे वनडे में शतकीय पारी खेलने वाले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा कि वह 46वें ओवर में विजय शंकर को गेंद सौंपना चाहते थे, लेकिन पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और उपकप्तान रोहित शर्मा ने उन्हें ऐसा करने से रोक दिया. ‘मैन ऑफ द मैच’ कोहली ने 120 गेंदों में 116 रनों की पारी खेली, जबकि डेथ ओवरों में भारतीय गेंदबाजों ने शानदर प्रदर्शन किया. भारत ने यह मैच आठ रनों से जीता. विजय शंकर अंतिम ओवर की पहली तीन गेंदों पर दो विकेट चटकाए.

कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘मैं ऑस्ट्रेलिया की बल्लेबाजी के दौरान 46वां ओवर शंकर को देने के बारे में सोच रहा था, लेकिन धोनी और रोहित ने मुझे जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी के साथ गेंदबाजी जारी रखने की सलाह दी. उनका सोचना था कि अगर हम कुछ विकेट निकाल लेते है तो मैच में बने रहेंगे और ऐसा ही हुआ. बुमराह ने स्टंप्स की सीध में गेंदबाजी की और यह काम आया. रोहित से सलाह लेना हमेशा अच्छा रहता है वह टीम का उपकप्तान है और धोनी लंबे समय से यह काम करते आ रहे हैं.’

गौरतलब है कि 46वें ओवर में बुमराह ने दो विकेट निकाले. उन्होंने ओवर के दूसरी गेंद पर नाथन कूल्टर नाइल (4) और चौथी गेंद पर पैट कमिंस (0) को क्रमश: बोल्ड और विकेट के पीछे धोनी के हाथों कैच कराया और ऑस्ट्रेलिया का स्कोर बदलकर 223/8 हो गया.

भारतीय कप्तान ने आखिरी के ओवरों में शानदार गेंदबाजी के दम पर मैच में टीम की वापसी करने वाले बुमराह की तारीफ की. उन्होंने कहा, ‘बुमराह चैम्पियन गेंदबाज है. एक ओवर में दो विकेट लेकर उसने मैच का रुख हमारे तरफ मोड़ दिया. ऐसे मैचों से आपको काफी आत्मविश्वास मिलता है. विश्व कप में भी हमें ऐसे कम स्कोर वाले मैच मिल सकते है. यह पिच केदार जाधव की गेंदबाजी के लिए सटीक थी. वह आखिरी ओवर में भी गेंदबाजी करना चाहता है.’

वनडे क्रिकेट में 40वां शतक लगाने वाले कोहली ने कहा, ‘यह सिर्फ संख्या है. लेकिन जब आप मैच जीतते हैं, तो अच्छा लगता है. जब मैं बल्लेबाजी के लिए उतरा तो हालात मुश्किल थे. मेरे पास पूरी पारी में बल्लेबाजी करने के अलावा कोई विकल्प नहीं था. मुझे टीम की गेंदबाजी से ज्यादा खुशी मिली है.’

ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एरॉन फिंच ने मार्कस स्टोइनिस कि तारीफ करते हुए कहा कि यह ऐसा मैच था जिसे टीम आखिर तक ले जाना चाहती थी. उन्होंने कहा, ‘यह ऐसा मैच था जिसे हम आखिर तक ले जाना चाहते थे और उम्मीद कर रहे थे कि जीत दर्ज करे. मार्कस स्टोइनिस ने शानदार पारी खेली. मैच में पूरे दिन उतार-चढ़ाव होता रहा. मैच का लय एक समय हमारे पक्ष में था, लेकिन हमने इसे खो दिया.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here