पांच पर्वों का त्योहार दिवाली को देश और दुनिया में बड़ी धूम-धाम से मनाया जाता है. दिवाली का त्योहार रोशनी का प्रतीक है. इस दिन मां लक्ष्मी की पूजा की जाती है. दिवाली के त्योहार को लेकर लोगों की अलग-अलग मान्यताएं हैं. इनमें से एक मान्यता के मुताबिक, दिवाली के दिन झाड़ू खरीदना शुभ माना जाता है. आइए जानें क्यों…

दिवाली के दिन झाड़ू खरीदना शुभ माना जाता है. कहा जाता है कि दिवाली के दिन झाड़ू खरीद कर इसे पूजा के बाद अगले दिन से इस्तेमाल करना चाहिए. झाड़ू के सही इस्तेमाल से घर के कई वास्तु दोष दूर होते हैं. यही नहीं इससे जुड़ी कुछ दूसरी मान्यताएं भी हैं.धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक, झाड़ू का अपमान करने से मां लक्ष्मी का अपमान होता है. माना जाता है कि जिस घर में झाड़ू को पैर लगाया जाता है वहां धन की कमी रहती है.

 

ऐसी भी मान्यता है कि झाड़ू को सिर्फ शनिवार के दिन ही खरीदना चाहिए. इससे घर में शांति बनी रहती है.

दिवाली के मौके पर झाड़ू को लेकर अगर ये उपाय किए जाए तो लक्ष्मी की कृपा मिलती है और घर-परिवार में सालभर खुशहाली का वास होता है.

दिवाली के दिन अगर स्थायी लक्ष्मी का वास चाहिए तो मंदिर में शुभ मुहूर्त के समय झाड़ू दान करनी चाहिए.

इसके अलावा अगर नए घर में प्रवेश करना हो तो झाड़ू के साथ प्रवेश करना शुभ माना जाता है.

ऐसा भी कहा जाता है कि झाड़ू को खुला रखना अशुभ होता है. मुख्य द्वार से झाड़ू कभी दिखनी नहीं चाहिए.

जब घर में झाड़ू का इस्तेमाल ना हो तो उसे नजर के सामने न रखें, बल्कि उत्तर दिशा की तरफ झाड़ू को छिपा कर रखें.

Related imageझाड़ू को कभी पूजा घर, भंडार गृह और सोने के कमरे में नहीं रखना चाहिए. सोने के कमरे में झाड़ू को रखने से वैवाहिक जीवन में अनबन शुरू हो जाती है.

अगर झाड़ू काफी पुरानी हो गई है तो शनिवार को ही पुरानी झाड़ू बदलें. साथ ही शनिवार को घर में साफ-सफाई का खास ध्यान रखना चाहिए.

झाड़ू को पैर से कभी नहीं लांघे. साथ ही इसको कभी जलाना नहीं चाहिए, क्योंकि ऐसी मान्यता है कि झाड़ू को जलाने से मां लक्ष्मी का अपमान होता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here