रायपुर : छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए चुनाव प्रचार अभियान 10 नवंबर को समाप्त हो रहा है। इससे पहले राजनीतिक दलों ने पूरी ताकत झोंक दी है। आज जगदलपुर में पीएम मोदी ने एक जनसभा को संबोधित किया। प्रधानमंत्री मोदी ने जगदलपुर में बस्तर की स्थानीय भाषा में अपना संबोधन शुरू किया। कहा- मां दंतेश्वरी से प्रार्थना करता हूं कि वह छत्तीसगढ़ के लोगों का भला करें।

पीएम मोदी ने कहा कि, भाई दूज के त्योहार के बावजूद इतनी बड़ी संख्या में लोगों का यहां आना बताता है कि यह चुनाव सभा नहीं बल्कि विकास सभा है। जब भी छत्तीसगढ़ आया हूं, खाली हाथ नहीं आया हूं। विकास की कोई न कोई योजना लेकर आया हूं। बस्तर मेरे दिल के सबसे करीब है, मैं यहां जब भी आया हूं कभी खाली हाथ नहीं आया।

‘हमारा तो एक ही मंत्र है, सबका साथ सबका विकास’

पीएम मोदी ने कहा कि, आने वाली पीढ़ियां कभी गरीबी का मुंह न देखें, यह सपना हम साकार करेंगे। हम बस्तर और छत्तीसगढ़ के विकास के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं। पहले की सरकारें अपने कुनबों के विकास के लिए लगी रहती हैं।

लेकिन हमने आने के बाद परिस्थितियों को बदला है। पीएम ने कहा कि, हमारा तो एक ही मंत्र है, सबका साथ सबका विकास। हमें सबका साथ भी चाहिए और सबका विकास भी चाहिए।

‘हमने आने के बाद सबसे पहले बिचौलियों को हटाया’

पहले की सरकारों में बिचौलियों का रोल होता था लेकिन हमने आने के बाद सबसे पहले इन बिचौलियों को हटाया है। जब से बीजेपी सत्ता में आई है तब से पुराने सरकार के कामकाज के रवैये को बदला है जिससे काम की स्पीड बढ़ गई है।

पीएम मोदी ने नक्सलियों पर निशाना साधते हुए कहा कि, जिन बच्चों के हाथ में कलम होनी चाहिए उन बच्चों के हाथ में राक्षसी प्रवृत्ति के लोग हथियार पकड़ा देते हैं। उनके मां बाप के सपने को तबाह कर देते हैं।

कांग्रेस पर लगाया ये आरोप…

जो अर्बन माओवादी हैं वो शहर में रहते हैं, एसी में रहते हैं , बड़ी कारों में घूमते हैं और उनके बच्चे विदेशों में पढ़ते हैं। कांग्रेस को जवाब देना चाहिए कि जब सरकार इन अर्बन माओवादियों के खिलाफ कार्रवाई करती है तो कांग्रेस उन माओवादियों के समर्थन में आकर खड़ी हो जाती है। अगर ऐसे लोगों से अपने आपको बचाना है तो छत्तीसगढ़ और बस्तर की सभी सीटों पर कमल ही खिलना चाहिए।

‘अटल जी के सपनों को पूरा करने बार-बार यहां आता हूं’

पीएम मोदी ने कहा कि, अटल जी के सपनों को पूरा करने के लिए बार-बार छत्तीसगढ़ और बस्तर आता हूं। जब तक अटल जी का सपना पूरा नहीं कर लेता चैन से नहीं बैठूंगा। घर में बेटा हो या बेटी, 18 साल का होने पर उनकी जरूरतें बदल जाती है।

छत्तीसगढ़ भी अब 18 साल का हो गया है। 18 साल के हो चुके छत्तीसगढ़ की बदलती जरूरतों के लिए दिल्ली में बैठी हमारी सरकार सपने बुन रही है और योजना पर काम कर रही है। पीएम कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि, मध्य प्रदेश से अलग होने के बाद छत्तीसगढ़ गलत हाथों में चला गया था।

‘रोजी-रोटी के लिए लोग आएंगे छत्तीसगढ़’

लेकिन यहां के मेरे दलित आदिवासी भाई बहन और यहां की जनता समझदार थी, इसलिए उसने छत्तीसगढ़ को बीजेपी के हाथों में सौंप दिया। छत्तीसगढ़ में विकास के जो भी काम हुए हैं, वह बीजेपी की सरकार ने किया है। आने वालों वर्षों में रोजी-रोटी के लिए भी लोग छत्तीसगढ़ में आने लगेंगे। किसी को घूमना होगा तो भी छत्तीसगढ़ आएगा।

पीएम मोदी ने कहा कि, जब छत्तीसगढ़ में बीजेपी को हराना मुश्किल हो गया तो केंद्र में बैठी कांग्रेस की सरकार ने 10 सालों तक छत्तीसगढ़ के विकास कार्यों को रोककर रखा। बीजेपी किसी एक व्यक्ति के दबाव में काम करने वाली पार्टी नहीं है क्योंकि हमारा हाइकमान तो देश की सवा सौ करोड़ जनता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here