नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने हर्ली डेविडसन मोटरसाइकलों पर ज्यादा आयात शुल्क को लेकर एक बार फिर भारत पर निशाना साधा है। ट्रंप ने इस बार पीएम नरेंद्र मोदी की नकल उतारते हुए कहा कि अमेरिका को कुछ भी हासिल नहीं हो रहा है। अमेरिकी कंपनी हर्ली द्वारा अधिक आयात शुल्क अदा करने पर ट्रंप इतने बिफरे हुए हैं कि दो हफ्तों के भीतर ही ट्रंप ने दूसरी बार इस मामले पर टिप्पणी की है।

आयात शुल्क को लेकर मोदी पर साधा निशाना

ट्रंप ने वाइट हाउस में अमेरिका के सभी राज्यों के गर्वनरों को संबोधित करते हुए कहा कि पीएम मोदी, जिन्हें वह शानदार शख्स समझते हैं, ने उन्हें कॉल किया था। ट्रंप ने बताया कि ‘उन्होंने कहा कि वह आयात शुल्क 50 फीसदी कर रहे हैं। मैंने कहा ओके, लेकिन हमें कुछ हासिल नहीं हो रहा है।’ इसके बाद अमेरिकी राष्ट्रपति को पीएम मोदी के भारतीय उच्चारण और हाव-भाव की नकल करते हुए भी देखा गया।

ट्रंप ने मोदी की नकल भी की

ट्रंप ने अपने दोनों हाथों को मोड़कर अपनी आवाज को मुलायम और गंभीर बनाते हुए कहा, ‘उन्होंने इसे काफी खूबसूरत अंदाज में कहा, वह खूबसूरत शख्स हैं और उन्होंने कहा कि मैं आपको बस इतना बताना चाहता हूं कि हमने इसे घटाकर 75 फीसदी किया और हम इसे और घटाकर 50 फीसदी कर रहे हैं। इसके बाद मैं क्या कहता? क्या मुझे रोमांचित हो जाना था?’

ट्रंप भारत से ‘जीरो टैक्स’ की उम्मीद लगाये हुए है

आपको बता दें कि भारत सरकार ने पिछले दिनों अमेरिकी मोटरसाइकलों पर आयात शुल्क क 75 फीसदी से घटाकर 50 फीसदी करने का फैसला किया है। ट्रंप इससे पहले भी भारत के इस कदम को अपर्याप्त ठहरा चुके हैं। ट्रंप ने इस बार भी कहा कि भारतीय मोटरसाइकलें काफी ज्यादा संख्या में अमेरिकी बाजार में बिकती हैं।

उन्होंने कहा कि हम उनपर टैक्स नहीं लगाते। ट्रंप भारत के संदर्भ में भी ऐसी पारस्परिक व्यवस्था की बात कर रहे हैं। ट्रंप ऐसी स्थिति में परस्पर अनुवर्ती कर या जवाबी कर लगाने की धमकी भी दे चुके हैं। दरअसल ट्रंप भारत से ‘जीरो टैक्स’ की उम्मीद में है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here